श्री योगी आदित्यनाथ

श्री योगी आदित्यनाथ

माननीय मुख्यमंत्री

माo नगर विकास मंत्री जी

श्री आशुतोष टण्डन

माo नगर विकास मंत्री जी

मा० राज्य नगर विकास मंत्री जी

श्री महेश गुप्ता

मा० राज्य नगर विकास मंत्री जी

माननीय अध्यक्ष

श्रीमती सरिता गुप्ता

माननीय अध्यक्ष

अधिशासी अधिकारी

श्री सुरेश कुमार मौर्य

अधिशासी अधिकारी

नगर पालिका परिषद, अकबरपुर में आपका स्वागत है

नगर पालिका या म्यूनिसिपाल्टी एक शहरी स्थानीय निकाय है जो किसी शहर की 100,000 या उससे ज्यादा कि आबादी को प्रशासकीय ढंग से चलाता है। हालांकि पछली नगर पालिकाओं पर गौर किया जाए तो उनका गठन इस आधार पर भी हो जाता था अगर उस क्षेत्र की आबादी 20,000 भी है, अतः पूर्व में सभी शहरी क्षेत्र जिनका गठन नगर पालिक में हो गया था उन्हें दोबारा से नगर पालिका में गठित किया गया है चाहे उस क्षेत्र की आबादी 100,000 ही क्यों न हो। पंचायती राज प्रणाली के तहत नगर पालिका सीधे राज्य सरकार से संपर्क रखती है, हालांकि वो उस जिले का हिस्सा है जिसके प्रशासकीय कार्यों के अंतर्गत वो आता है। आमतौर पर छोटे शहरों और बड़े शहरों में नगर पालिका होती हैं।

नगर पालिका के चुने गए सदस्यों का कार्यकाल पांच सालों का होता है। शहर अपनी जनसंख्या के अनुसार वार्ड में बांटा गया है और प्रत्येक वॉर्ड में एक प्रतिनिधी चुना गया है। अध्यक्ष का चुनाव भी नगर पालिका के नागरिकों द्वारा किया जाता है। जिससे मीटिंग गठन में और अध्यक्षता में कोई दिक्कत नहीं आती है। राज्य लोक सेवा का एक मुख्य अधिकारी, अन्य अधिकारी जैसे अभियंता (जिन्हें राज्य सरकार द्वारा नियुक्त किया जाता है) नगर पालिका में नियुक्त किया जाता है जिससे वो नगर पालिका का प्रशासकीय कार्य देख सकें।

और पढ़ें
सूचनाएं
सभी समाचार देंखे

समाज कल्याण रूपरेखा

नगर पालिका एक शहरी स्थानीय निकाय है जो 1,00,000 या उससे अधिक जनसंख्या वाले शहरों में प्रशासन करती है ।

शहरी स्थानीय स्वशासन प्रणाली के अंतर्गत नगर पालिका परिषद उस जिले का प्रशासकीय हिस्सा होती है जिसमें वह स्थित है। नगर पालिका परिषद संवैधानिक (74 वें संशोधन) अधिनियम, 1992 में निहित कुछ कर्तव्यों और जिम्मेदारियों के लिए उत्तरदायी है। यह राज्य सरकार के साथ सीधे संपर्क रखती है।

नगर पालिका के सदस्य पांच साल की अवधि के लिए निर्वाचित प्रतिनिधि होते हैं। शहर अपनी जनसंख्या के अनुसार विभिन्न वार्डों में विभाजित किया गया है और प्रत्येक वार्ड के लिए प्रतिनिधि चुने जातें हैं। अध्यक्ष का चुनाव भी नगर पालिका के नागरिकों द्वारा किया जाता है जो नगर पालिका की बैठकों का संचालन करता है।

और पढ़ें

ई-गवर्नेंस

हमारी सेवाएं

स्वच्छ भारत

सड़क निर्माण

सीवर और नालियां

पार्क का रखरखाव